Aaj kal bahut se log blog shuru karna chahte hai aur har din na jane kitne log how to start a blog, how to start a blog in hindi, blog kaise shuru kare, blog se paise kaise kamaye aur isi tarh ki cheeje google par search karte hai to agar aap bhi janana chahte hai ki ap ek blog kaise shuru kar sakte hai aur us blog se paise kaise kama sakte hai to ye article aap ke liyte hai.

How to start a Blog in Hindi?  ब्लॉग कैसे शुरू करें

आजकल blog का काफी craze चल रहा है, और आपने blogging के बारे में जरूर सुना होगा. Blogging कैसे करें यह जानने से पहले हम जानते हैं कि blogging होता क्या है. 

What is Blogging in Hindi ? ब्लॉगिंग क्या है ?

ऑनलाइन blog के जरिए अपनी बातों को दूसरों के साथ share करने को blogging कहते हैं. पहले के समय में blogging काफी सरल और साधारण था. लोग अपने personal blog बनाकर उस पर अपनी दिनचर्या के ऊपर post डालते थे, और यहीं से blog का चलन शुरू हुआ. पर आज के समय में blogging के क्षेत्र में competition काफी बढ़ गया है. और कई लोग blogging के जरिए पैसा भी कमाते हैं. पर ध्यान दे की blog और website दोनों अलग-अलग चीजें हैं.

बहुत लोग यह सोचते हैं कि blog और website दोनों एक ही चीज होती है, पर आपको बता दें कि यह दोनों चीजें एक दूसरे से काफी अलग है. एक blog को एक website कह सकते हैं पर एक website को blog नहीं कह सकते. 

Example के तौर पर Google.com एक वेबसाइट है. और Techkenzo.com एक ब्लॉग है, जहां रोजाना नए-नए post डाले जाते हैं. और कई companies ऐसी होती हैं जो अपनी website पर blog भी डालते हैं. जैसे कि WordPress.com एक website है और वे अपनी website पर blog भी डालते हैं.

और एक blog रोजाना update होता रहता है, पर एक website केवल तभी update किया जाता है जब उसमें कोई नई जानकारी डालनी हो या फिर पुराने जानकारी को अपडेट करना हो.

Blogging इतना प्रचलित क्यों है ?

Blogging के कई सारे फायदे हैं. यही कारण है कि blogging इतनी तेजी से लोगों के बीच प्रचलित हो रहा है. हालांकि, दूसरे देशों के मुकाबले भारत में blogging का चलन अभी काफी कम है. पर जिओ के आने के बाद से भारत में भी blogging काफी तेजी से बढ़ रहा है. और अब काफी लोग हिंदी में भी blogging करना शुरू कर दिए हैं. जैसे कि हमारा blog भी हिंदी में है.

और आजकल कई सारे businesses भी blogging का इस्तेमाल अपने customers को update और अपने business को बढ़ाने के लिए करते हैं. Blogging के जरिए आप एक job से भी ज्यादा पैसा कमा सकते हैं. और अपने मन मुताबिक काम कर सकते हैं. पर blogging के कई सारे disadvantages भी हैं.

Disadvantages of Blogging in Hindi ?

  • Blogging में आपको काफी समय देना पड़ता है.
  • आपको लगातार काम करना पड़ेगा.
  • आपको अच्छे से article लिखने आना चाहिए.
  • आपको तुरंत पैसे नहीं मिलते.
  • Article को rank करना काफी मुश्किल होता है.
  • Blog पे traffic लाना काफी मुश्किल होता है.
  • Blog को rank कराने के लिए SEO करना पड़ता है.

Blogging के इस तरह के और भी कई सारे disadvantages है. पर अगर आप अपने blog को टाइम देते हैं, और हर दिन उस पर काम करते हैं. लगातार artilce को post करते हैं, तो आपको blogging में सफलता जरूर मिलेगी. अब चलिए जानते हैं कि blog को कैसे शुरू करें ?

How to start a Blog in Hindi ?

Steps to start a blog

Blog शुरू करने से पहले अपने blog के लिए एक अच्छा सा नाम चुने,और उसके बाद अपना Niche चुने. Niche मतलब आप किस चीज के बारे में blogging करेंगे.और उसके बाद domain name रजिस्टर करें. आप domain name कहीं से भी रजिस्टर कर सकते हैं पर मैं आपको hostinger से रजिस्टर करने के लिए कहूंगा.

क्योंकि hostinger काफी अच्छा प्लेटफार्म है और दूसरे होस्टिंग कंपनियों के मुकाबले यह काफी सस्ता भी है. domain name रजिस्टर करने के लिए सबसे पहले आप को hostinger.in पर जाना होगा.

Step -1

Hostinger की सबसे अच्छी बात यह है कि यहां पर आपको हमेशा कोई ना कोई ऑफर मिल जाएगा, जिसकी वजह से आप hosting और domain name सस्ते दामों पर रजिस्टर कर पाएंगे. आप केवल domain register करने के बजाय hosting खरीद सकते हैं. क्योंकि hosting plan के साथ आपको फ्री में domian name मिलेगा.

Step -2

Hostinger वेबसाइट पर जाने के बाद Best Web Hosting पर जाएं और अपने hosting plan को चुने.ध्यान दे की यह shared hosting हैं. और अगर आप पहली बार एक blog शुरू करने जा रहे हैं तो मेरा सुझाव यही रहेगा कि आप shared hosting से अपने ब्लॉगिंग की शुरुआत करें.

Step -3

 

आपको hostinger पर हमेशा 3 तरह के hosting मिलेंगे. जिसमें Single Web Hosting, Premium Web Hosting और Business Web Hosting शामिल है. आप चाहे तो Single Web Hosting से भी blogging कर सकते हैं, पर मेरा सुझाव रहेगा कि Premium Web Hosting या Business Web Hosting में से किसी एक का चुनाव करें. [ हम यहां आपको Premium Web Hosting रजिस्टर करके दिखाएंगे ]

Step -4

सबसे अच्छी बात यह है कि आपको domain name के साथ एक SSl certificate भी फ्री दिया जाएगा. Hostinger के अलावा आपको यह सुविधा कहीं नहीं मिलेगी. [ सबसे अच्छी बात यह है कि आपको SSL certifiacte हमेशा के लिए फ्री दिया जाएगा ] आपको इसे renew कराने की जरूरत नहीं है. आप जब अपने hosting plan को renew करेंगे तो आपको हमेशा यह SSL certificate फ्री में दिया जाएगा.

Step -5

अपने hosting plan को Add to cart करने पर आपको यह ऑप्शन देखने को मिलेंगे. और यहां पर आप अपने पसंदीदा domain name को रजिस्टर कर सकते हैं. सबसे पहले आपको अपने domain name को डालकर सर्च करना होगा अगर वह domain name उपलब्ध होगा तो वह आप ले सकते हैं. इसके अलावा आपको यहां पर यह भी चुनना होगा कि आप इस hosting plan को कितने समय के लिए लेना चाहते हैं. [ ध्यान दें कि फ्री domain name पाने के लिए आपको कम से कम 12 महीने का hosting plan खरीदना होगा ]

Step -6

Step -7

 

domain name रजिस्टर करते वक्त आपसे आपके पर्सनल इंफॉर्मेशन को hide करने के लिए पूछा जाएगा. आप domain name रजिस्टर करते वक्त जो भी जानकारी देते हैं, जैसे की नाम, एड्रेस, ईमेल, और मोबाइल नंबर इत्यादि. वह सभी जानकारी who.is डेटाबेस में सेव हो जाता है. और उसे कोई भी access कर सकता है. मतलब आपके domian name से उसे आपके बारे में सभी जानकारी मिल जाएगी.

What is WHOIS database? WHOIS क्या है और कैसे काम करता है ?

पर अगर आप अपनी जानकारी publicly नहीं दिखाना चाहते तो, आप 275 रुपए देकर अपनी जानकारी को छुपा सकते हैं. [ ध्यान दें कि आपको हर साल 275 रुपए देने होंगे ] एक बार hosting खरीदने के बाद भी आप इसे खरीद सकते हैं.

Step -8

अपना पसंदीदा domain name सिलेक्ट करने के बाद, Checkout Now पर क्लिक करें और अपना अकाउंट बनाएं

Step -9

अकाउंट बनाने के बाद आपके सामने पेमेंट ऑप्शन आएगा, आप अपना पसंदीदा पेमेंट ऑप्शन सिलेक्ट कर सकते हैं. पर मैं आपको सुझाव दूंगा कि आप UPI के जरिए पेमेंट करें. पहले hostinger पर यह पेमेंट ऑप्शन नहीं उपलब्ध था, पर hostinger ने केवल खास भारतीय उपभोक्ताओं के लिए यह पेमेंट ऑप्शन उपलब्ध कराया है.

Step -10

Step -11

UPI पेमेंट ऑप्शन सिलेक्ट करने के बाद अपने सभी डिटेल्स को डालकर continue पर क्लिक करें, और इसके बाद अपने पसंदीदा UPI ऐप को सिलेक्ट करें, जिससे आप पेमेंट करना चाहते हैं.

Step -12

Step -13

पेमेंट करने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन successfull हो जाएगा. और आपको पेमेंट का reciept आपके ईमेल आईडी पर प्राप्त हो जाएगा और इसके बाद आप अपने hostinger अकाउंट का उपयोग कर सकते हैं. [ आपने hosting रजिस्टर करते वक्त जो अकाउंट बनाया था उसी से आपको hostinger पर लॉग इन करना होगा ]

Step -14

 

लॉग इन करने के बाद आपको आपका hosting pannel दिखेगा, जहां से आप सब कुछ manage कर सकते हैं. 

Step -15

 

Hostinger की सबसे अच्छी बात यह है कि आप यहां पर जब चाहे कस्टमर सपोर्ट से बात कर सकते हैं, और जो कोई भी समस्या हो आप उसका समाधान उनसे पा सकते हैं. और सभी hosting कंपनियों के मुकाबले hostinger की कस्टमर सर्विस काफी अच्छी है. कस्टमर सपोर्ट से कभी भी बात करने के लिए अपने hostinger अकाउंट में लॉगिन करें, और चैट आइकन पर क्लिक करें.

 

अब आपने hostinger पर hsoting भी खरीद लिया और domain name भी रजिस्टर कर लिया है, तो चलिए जानते हैं कि आप अपना blog कैसे शुरू कर सकते हैं ?

How to start a Blog in Hindi? / ब्लॉग कैसे शुरू करें

blog शुरू करने के लिए आपको किसी CMS की जरूरत पड़ेगी, और हम यहां पर blog बनाने के लिए wordpress का इस्तेमाल करेंगे. क्योंकि wordpress दुनिया भर में प्रसिद्ध है, और दुनिया भर में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला CMS है. इंटरनेट पर मौजूद 50% से ज्यादा वेबसाइट wordpress पर बनी है.

wordpress के लिए इमेज परिणाम

सबसे पहले आपको अपने hostinger अकाउंट में auto installer की मदद से wordpress को इंस्टॉल करना होगा, इसके लिए अपने hostinger अकाउंट में लॉगिन करें और hosting pannel में जाकर auto installer पर क्लिक करें

Step -1

 

Auto insatller की मदद से आप अपने वेबसाइट पर कई सारे टूल को इंस्टॉल कर सकते हैं, पर अभी हम wordpress को इंस्टॉल करेंगे. WordPress को इंस्टॉल करने के लिए wordpress पर क्लिक करें

Step -2

 

WordPress पर क्लिक करने के बाद आपको कुछ ऐसा देखने को मिलेगा, इसके बाद next पर क्लिक करें और अपने सभी details को भरें. जैसे Administrator username, password और Emial ID. और यह सब जानकारी भरने के बाद next पर क्लिक करें. [ ध्यान दें कि wordpress में लॉग इन करने के लिए आपको इसी username और paassword की जरूरत पड़ेगी ] और उसके बाद अपनी वेबसाइट के title को डालकर install पर क्लिक करें.

Step -3

Step -4

 

Step -5

Step -6

और अब आपके वेबसाइट पर wordpress इंस्टॉल हो चुका है, और इस्तेमाल करने के लिए तैयार है. आप चाहें तो अपने wordpress के admin pannel को hostinger के hosting pannel से भी access कर सकते हैं या फिर अपने website के आगे /wp-admin लगाकर भी अपने wordpress के admin pannel को access कर सकते हैं. जैसे कि techkenzo.com/wp-admin

Step 1

Step -2

Step -3

 

और अब अपने blog के लिए एक अच्छा सा theme चुनिए, theme चुनने के लिए अपने wordpress में लॉगिन करके appearance में जाइए. WordPress में पहले से कुछ themes इंस्टॉल रहते हैं. पर आपको नया थीम इंस्टॉल करना है तो add theme पर क्लिक करें. और अपने मन पसंदीदा theme को इंस्टॉल करें. या फिर अगर आप चाहे तो खुद का भी थीम अपलोड करके इंस्टॉल कर सकते हैं.

Step -1

 

Step -2

 

Step -3

Step -4

अब अपने मन पसंदीदा theme को इंस्टॉल करने के बाद अपने theme को कस्टमाइज करें, और जब आपका वेबसाइट पूरी तरह से लांच करने के लिए तैयार हो तभी उसे पब्लिश करें.

और अब जब आपका वेबसाइट पब्लिश हो चुका है तो अपने वेबसाइट पर पोस्ट करना शुरू करें. आर्टिकल पोस्ट करने के लिए नीचे दिए गए steps को फॉलो करें.

Step -1

Step -2

अब आप ने अपने ब्लॉग पर अपना पहला आर्टिकल भी पब्लिश कर लिया है. और आप इस तरीके से रोज अपने ब्लॉग पर आर्टिकल पब्लिश कर सकते हैं, और अगर आप ब्लॉगिंग कैरियर में सफल होना चाहते हैं तो आपको रोजाना अपने blog पर आर्टिकल पब्लिश करने होंगे.

चलिए अब वर्डप्रेस के दूसरे फीचर के बारे में जानते हैं. जब आप अपने वर्डप्रेस के एडमिन पैनल को access करेंगे तब आप देखेंगे कि वहां पर कई सारे ऑप्शन दिए गए हैं. तो हम आपको बताएंगे कि आप किस ऑप्शन का इस्तेमाल करके आप क्या कर सकते हैं?

1. Dashboard

वर्डप्रेस के dashboard पर आपको आपके blog से जुड़ी कुछ जानकारियां मिल जाएंगी. आप चाहे तो आप अपने dashboard को customize भी कर सकते हैं. आप अपने वर्डप्रेस के dashboard पर quick draft को भी बना सकते हैं. Quick draft की मदद से आप अपने अगले आर्टिकल के आईडिया को सेव कर सकते हैं और फिर बाद में उस पर कोई आर्टिकल लिख सकते हैं. इसके अलावा और भी कई सारी जानकारियां वर्डप्रेस की dashboard पर उपलब्ध होती हैं.

2. Posts

इस ऑप्शन की मदद से आप अपने blog के सभी पोस्ट को मैनेज कर सकते हैं. आप नया पोस्ट लिख सकते हैं या फिर अपने पुराने पोस्ट को डिलीट कर सकते हैं. इसके अलावा इस ऑप्शन की मदद से आप अपने कैटेगरी और tags को मैनेज कर सकते हैं. साथ ही आप यह भी जान सकते हैं कि आज तक आपने कितने पोस्ट पब्लिश किए हैं और कितने पोस्ट को डिलीट किया है.

3. Media

आप इस ऑप्शन की मदद से अपने मीडिया फाइल्स को मैनेज कर सकते हैं. आपको अपनी वेबसाइट पर जो कोई मीडिया फाइल डालना हो सबसे पहले उसे आपको मीडिया ऑप्शन के जरिए अपलोड करना होगा. और एक बार अपलोड करने के बाद आप उस मीडिया फाइल का इस्तेमाल अपनी वेबसाइट पर कर सकते हैं. 

4. Pages

इस ऑप्शन का इस्तेमाल करके आप अपने blog के pages को मैनेज कर सकते हैं. साथ ही आप अगर चाहे तो नए पेज को भी ऐड कर सकते हैं, साथ ही आप यह भी जान सकते हैं कि आप ने आज तक कितने page बनाए हैं और आप अपने pages को डिलीट भी कर सकते हैं.

5. Comments

अगर आपके ब्लॉग पोस्ट पर कोई कमेंट करता है तो वह सभी कमेंट आपको यहां पर दिखेंगे. आप चाहे तो उन कमेंट को approve कर सकते हैं या फिर उन्हें डिलीट कर सकते हैं. 

6. Appearance

इस ऑप्शन की मदद से आप अपने वेबसाइट के theme को मैनेज कर सकते हैं. आप चाहे तो यहां से नया theme इंस्टॉल कर सकते हैं या फिर अपने पुरानी theme को डिलीट कर सकते हैं. इसके अलावा यहां से आप अपने widget और menus को भी मैनेज कर सकते हैं. साथ ही आप theme editor का इस्तेमाल करके अपने theme को edit कर सकते हैं.

7. Plugins

इस ऑप्शन की मदद से आप अपनी वेबसाइट के plugins को मैनेज कर सकते हैं. यहां से आप अपने plugins को इंस्टॉल, डिलीट और अपडेट कर सकते हैं. इसके अलावा आप plugins editor की मदद से अपने plugins को एडिट भी कर सकते हैं.

 

8. Users

इस ऑप्शन की मदद से आप अपनी वेबसाइट पर नए यूजर को ऐड कर सकते हैं या फिर पुराने यूजर को डिलीट सकते हैं. आपको बता दें कि वर्डप्रेस में आप मुख्यतः तीन तरह के यूजर को बना सकते हैं.

  • Administrator :  एक एडमिनिस्ट्रेटर के पास आपके वेबसाइट का पूरा कंट्रोल होता है. वह आपके वेबसाइट पर कुछ भी कर सकता है. किसी भी कंटेंट को डिलीट कर सकता है या फिर नया कंटेंट भी ऐड कर सकता है. साथ ही एक एडमिनिस्ट्रेटर के पास आपके वेबसाइट के theme का भी पूरा कंट्रोल होता है.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

As you found this post useful...

Follow us on social media!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *